मेरे अन्य ब्लॉग

शुक्रवार, 8 नवंबर 2013

राजनीति के लड्डू

राजनीति के लड्डू होते बड़े स्वादिष्ट हैं वरना ऐसा कैसे हो सकता है उनके आगे कोई जीवन का मूल्य भी न समझे। मध्य  प्रदेश के आगर में एक नेता नरसिंह मालवीय को टिकट नहीं मिला तो जहर खाकर जान दे दी। उनका दर्द तो वही जानते रहे होंगे। किन्तु उनकी यह हरकत बताती है कि जिस मिठाई पर उन्होंने निगाह जमाई होगी वह नहीं मिली तो उनका जी इतना कड़वाहट से भर गया कि उन्होंने जान दे दी। अब साहब सीट एक और सवारी चाहने वाले तमाम तो किसी एक ही को मिलेगी। अगर सीट बहुत ही आकर्षक होगी तो वंचित या तो अपनी जान दे देगा या फिर किसी की जान ले लेगा। आखिर यही तो होता आया है आज तक।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

त्वरित टिप्पणी कर उत्साह वर्धन करें.