मेरे अन्य ब्लॉग

मंगलवार, 12 नवंबर 2013

सरदार

राजा चुप्प रहता है,
बोलता दरबार है।
वो क्यों अ-सरदार होगा ,
वो तो सरदार है।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

त्वरित टिप्पणी कर उत्साह वर्धन करें.