मेरे अन्य ब्लॉग

शनिवार, 25 अप्रैल 2015

आत्महत्या

ये बुरे दिन हमेशा न रहेंगे। आत्महत्या किसी समस्या का इलाज नहीं है। कर्ज की लत लग जाती है तो ऐसी घटनाएँ बढ़ जाती हैं। सरकार को चाहिए कि किसानों की आय बढ़ाने के उपायों पर काम करे न कि उन्हें कर्ज की सुविधाएं देने पर।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

त्वरित टिप्पणी कर उत्साह वर्धन करें.