मेरे अन्य ब्लॉग

सोमवार, 20 मार्च 2017

परीक्षा और पूजा

परीक्षा और पूजा में एक समता होती है|
एक जगह भक्त कि दूसरे में छात्र कि परीक्षा होती है|
भगवान को भोग लगता है भगवान कुछ खाता नहीं है|
छात्र पास होता है भले ही उसे कुछ आता नहीं है|

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

त्वरित टिप्पणी कर उत्साह वर्धन करें.